“Kargil Vijay Diwas” | Congress says martyrs’ bravery will inspire future generations

1

Introduction
Kargil Vijay Diwas is an important day in the history of India as it commemorates the victory of the Indian Armed Forces over the intruding Pakistani troops during the 1999 Kargil conflict. On this day the nation pays homage to the brave soldiers who showed extraordinary courage and dedication to protect the sovereignty of the country. The occasion is not only a reminder of the sacrifices made by the Armed Forces but also an inspiration for future generations to serve the nation with valor and honour.

परिचय
कारगिल विजय दिवस भारत के इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि यह 1999 के कारगिल संघर्ष के दौरान घुसपैठ करने वाले पाकिस्तानी सैनिकों पर भारतीय सशस्त्र बलों की जीत की याद दिलाता है। इस दिन राष्ट्र उन बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि देता है जिन्होंने देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए असाधारण साहस और समर्पण दिखाया। यह अवसर न केवल सशस्त्र बलों द्वारा किए गए बलिदानों की याद दिलाता है, बल्कि भावी पीढ़ियों के लिए वीरता और सम्मान के साथ देश की सेवा करने की प्रेरणा भी है।

Significance of Kargil Vijay Diwas
Kargil Vijay Diwas, celebrated every year on 26 July, symbolizes the determination and bravery of the Indian Armed Forces in recapturing the high posts captured by Pakistani intruders. The conflict posed a serious challenge to India’s security, and the army’s successful capture of these outposts is celebrated as a testament to the country’s strength and unity.

कारगिल विजय दिवस का महत्व
हर साल 26 जुलाई को मनाया जाने वाला कारगिल विजय दिवस, पाकिस्तानी घुसपैठियों द्वारा कब्जा कर ली गई ऊंचाई वाली चौकियों को पुनः प्राप्त करने में भारतीय सशस्त्र बलों के दृढ़ संकल्प और बहादुरी का प्रतीक है। इस संघर्ष ने भारत की सुरक्षा के लिए एक गंभीर चुनौती पेश की, और सेना द्वारा इन चौकियों पर सफलतापूर्वक कब्ज़ा करने को देश की ताकत और एकता के प्रमाण के रूप में मनाया जाता है।

Remembering the brave soldiers
1.1 1999 Kargil conflict
The Kargil conflict of 1999 was a defining moment in the history of India. It was an armed conflict between India and Pakistan that took place in the Kargil district of Jammu and Kashmir. Pakistani troops disguised as terrorists had infiltrated the area and occupied strategic positions in the mountains.

वीर जवानों को याद करते हुए
1.1 1999 कारगिल संघर्ष
1999 का कारगिल संघर्ष भारत के इतिहास में एक निर्णायक क्षण था। यह भारत और पाकिस्तान के बीच जम्मू-कश्मीर के कारगिल जिले में हुआ एक सशस्त्र संघर्ष था। आतंकवादियों के वेश में पाकिस्तानी सैनिकों ने इस क्षेत्र में घुसपैठ की थी और पहाड़ों में रणनीतिक पदों पर कब्जा कर लिया था।

1.2 Sacrifice and Heroism
The Kargil conflict witnessed tremendous sacrifices by Indian soldiers who fought under challenging conditions. The high altitude terrain and extreme weather made the operation even more difficult. However, the soldiers, displaying unwavering determination, defended the country’s borders with courage and valor.

1.2 बलिदान और वीरता
कारगिल संघर्ष में चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में लड़ने वाले भारतीय सैनिकों के जबरदस्त बलिदान का गवाह बना। ऊंचाई वाले इलाके और चरम मौसम ने ऑपरेशन को और भी कठिन बना दिया। हालाँकि, सैनिकों ने अटूट दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन करते हुए साहस और वीरता के साथ देश की सीमाओं की रक्षा की।

Tribute to Congress President Mallikarjun Kharge
2.1 Honoring the brave soldiers

On the occasion of Kargil Vijay Diwas, Congress President Mallikarjun Kharge extended warm greetings to the brave soldiers of the Indian Armed Forces. He paid tribute to their unwavering spirit and sacrifice in protecting the sovereignty of the country.

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को श्रद्धांजलि
2.1 बहादुर सैनिकों का सम्मान

कारगिल विजय दिवस के अवसर पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भारतीय सशस्त्र बलों के बहादुर सैनिकों को हार्दिक शुभकामनाएं दीं। उन्होंने देश की संप्रभुता की रक्षा में उनकी अटूट भावना और बलिदान को श्रद्धांजलि अर्पित की।

2.2 Appreciating the Armed Forces and their families
Mallikarjun Kharge’s message also acknowledged the families of the armed forces who stand as a pillar of support and strength for the soldiers. Their unwavering support and sacrifice are integral to the resilience and dedication of the soldiers.

2.2 सशस्त्र बलों और उनके परिवारों की सराहना करना
मल्लिकार्जुन खड़गे के संदेश में सशस्त्र बलों के परिवारों को भी स्वीकार किया गया जो सैनिकों के लिए समर्थन और ताकत के स्तंभ के रूप में खड़े हैं। उनका अटूट समर्थन और बलिदान सैनिकों के लचीलेपन और समर्पण का अभिन्न अंग हैं।

Kargil Vijay Diwas Celebrations
3.1 Nationwide commemoration

Kargil Vijay Diwas is observed across the country to honor the martyrs and the valor of the Indian Armed Forces. Various events and functions are organized across the country to pay homage to the brave soldiers.

कारगिल विजय दिवस समारोह
3.1 राष्ट्रव्यापी स्मरणोत्सव

कारगिल विजय दिवस शहीदों और भारतीय सशस्त्र बलों की वीरता का सम्मान करने के लिए देश भर में मनाया जाता है। वीर सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए देश भर में विभिन्न कार्यक्रम और समारोह आयोजित किए जाते हैं।

3.2 Remembering fallen heroes
This day is also an opportunity for the country to remember the martyr heroes who made the supreme sacrifice while protecting the country’s borders. His selfless dedication and courage continues to inspire the entire nation

3.2 शहीद नायकों को याद करना
यह दिन देश के लिए उन शहीद नायकों को याद करने का भी अवसर है जिन्होंने देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उनका निस्वार्थ समर्पण और साहस पूरे देश को प्रेरित करता रहता है।

Inspire future generations

4.1 Cultivating Patriotism and Courage
Kargil Vijay Diwas serves as a source of inspiration for future generations. The stories of bravery and valor of the 1999 conflict instill a sense of patriotism and pride in the hearts of the youth

भावी पीढ़ियों को प्रेरणा देना
4.1 देशभक्ति और साहस पैदा करना

कारगिल विजय दिवस भावी पीढ़ियों के लिए प्रेरणा स्रोत का काम करता है। 1999 के संघर्ष की बहादुरी और वीरता की कहानियाँ युवाओं के दिलों में देशभक्ति और गर्व की भावना पैदा करती हैं।

4.2 Recognizing Bravery
The valor and sacrifice of the armed forces during the Kargil conflict is celebrated to recognize their extraordinary contribution. This acknowledgment boosts the morale of the present Army personnel and motivates them to serve the nation with utmost dedication.

4.2 बहादुरी को पहचानना
कारगिल संघर्ष के दौरान सशस्त्र बलों की वीरता और बलिदान को उनके असाधारण योगदान को पहचानने के लिए मनाया जाता है। यह स्वीकृति वर्तमान सैन्य कर्मियों का मनोबल बढ़ाती है और उन्हें अत्यंत समर्पण के साथ देश की सेवा करने के लिए प्रेरित करती है।

Conclusion
Kargil Vijay Diwas stands as a testimony to the indomitable spirit and bravery of the Indian Armed Forces. It is a day to remember and honor the sacrifices of the soldiers who fought valiantly to protect the integrity of the country. The occasion is a reminder of the importance of unity, courage and patriotism in defending the sovereignty of our beloved country.

निष्कर्ष
कारगिल विजय दिवस भारतीय सशस्त्र बलों की अदम्य भावना और बहादुरी के प्रमाण के रूप में खड़ा है। यह उन सैनिकों के बलिदान को याद करने और उनका सम्मान करने का दिन है जिन्होंने देश की अखंडता की रक्षा के लिए बहादुरी से लड़ाई लड़ी। यह अवसर हमारे प्यारे देश की संप्रभुता की रक्षा में एकता, साहस और देशभक्ति के महत्व की याद दिलाता है।

Questions to ask
1.1 What is the history of Kargil Vijay Diwas?

Kargil Vijay Diwas commemorates the victory of the Indian Armed Forces over the intruding Pakistani troops during the 1999 Kargil conflict. It celebrates the successful capture of strategic positions in the Kargil district of Jammu and Kashmir.

पूछे जाने वाले प्रश्न
1.1 कारगिल विजय दिवस का इतिहास क्या है?

कारगिल विजय दिवस 1999 के कारगिल संघर्ष के दौरान घुसपैठ करने वाले पाकिस्तानी सैनिकों पर भारतीय सशस्त्र बलों की जीत की याद दिलाता है। यह जम्मू और कश्मीर के कारगिल जिले में रणनीतिक पदों पर सफलतापूर्वक कब्जा करने का जश्न मनाता है।

1.2 How is Kargil Vijay Diwas celebrated in India?
Kargil Vijay Diwas is celebrated across the country through various programs and events that pay tribute to the brave soldiers. It is time to remember the sacrifices made by the Armed Forces and honor their courage.

1.2 भारत में कारगिल विजय दिवस कैसे मनाया जाता है?
कारगिल विजय दिवस देश भर में विभिन्न कार्यक्रमों और समारोहों के माध्यम से मनाया जाता है जो बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हैं। यह सशस्त्र बलों द्वारा किए गए बलिदानों को याद करने और उनके साहस का सम्मान करने का समय है।

1.3 What was the result of the Kargil conflict?
The Kargil conflict resulted in the victory of the Indian armed forces, the expulsion of the intruding Pakistani troops and the recapture of the high altitude posts. It displayed the determination and valor of the Indian Army.

1.3 कारगिल संघर्ष का परिणाम क्या था?
कारगिल संघर्ष के परिणामस्वरूप भारतीय सशस्त्र बलों की जीत हुई, घुसपैठ करने वाले पाकिस्तानी सैनिकों को खदेड़ दिया गया और उच्च ऊंचाई वाली चौकियों पर पुनः कब्जा कर लिया गया। इसने भारतीय सेना के दृढ़ संकल्प और वीरता को प्रदर्शित किया।

1.4 कारगिल विजय दिवस युवाओं को कैसे प्रेरित करता है?
कारगिल विजय दिवस 1999 के संघर्ष की बहादुरी और वीरता की कहानियों को साझा करके युवाओं को प्रेरित करता है। यह देशभक्ति की भावना पैदा करता है और युवाओं को समर्पण और साहस के साथ देश की सेवा करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

1.4 How does Kargil Vijay Diwas inspire the youth?
Kargil Vijay Diwas inspires the youth by sharing stories of bravery and heroism of the 1999 struggle. It inculcates the spirit of patriotism and encourages the youth to serve the country with dedication and courage.

1 thought on ““Kargil Vijay Diwas” | Congress says martyrs’ bravery will inspire future generations

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *